Yojana Labh

www.yojanalabh.com/

|Apply| मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना 2023: UK Mahalaxmi Yojana | लाभ व पात्रता

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana:- उत्तराखंड की महिलाओं और बेटियों को प्रसव के दौरान सुरक्षा कवच प्रदान करने हेतु राज्य के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का शुभारंभ 30 जून 2021 को किया जाएगा। इस योजना के माध्यम से राज्य की उन महिलाओं को बेटी के जन्म होने पर महालक्ष्मी किट प्रदान की जाएगी। तो दोस्तों आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना 2023 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे लोग उद्देश्य पात्रता दस्तावेज एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। UK Mahalaxmi Yojana से जुड़ी संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana

Table of Contents

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana

30 जून 2021 को उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना की शुरुआत की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत प्रसव के दौरान महिलाओं को एक महालक्ष्मी किट प्रदान की जाएगी। इस‌ किट का उपयोग करके राज्य की महिलाएं और बालिका शिशु अपनी जरूरतों को पूरा कर सकेंगी। इस किट में वह सभी चीजें उपलब्ध होंगी जो प्रसव के दौरान जरूरी होती हैं। इस योजना को आरंभ करते समय सभी जिलों में कार्यक्रम का आयोजन किया जाएगा। UK Mahalaxmi Yojana को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि कन्या के जन्म होने पर मां और कन्या दोनों की देखरेख अच्छे से की जाए ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।

  • इस योजना को आरंभ करते समय लगभग 16,929 लाभार्थियों को वर्चुअल जोड़ा जाएगा और उन्हें महालक्ष्मी किट उपलब्ध कराई जाएगी।
  • इस किट का उपयोग करके राज्य की महिलाएं और शिशु बालिकाएं अपनी जरूरतों को पूरा कर सकेंगे एवं उन्हें किसी भी प्रकार की तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • यदि आप भी मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में जाना होगा।

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के मुख्य तथ्य

इस योजना से संबंधित कुछ मुख्य तथ्य इस प्रकार हैं:-

योजना का नामMukhyamantri Mahalaxmi Yojana 2023
किसके द्वारा आरंभ की जाएगीमुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा
घोषणा तिथि26 जून 2021
आरंभ तिथि30 जून 2021
योजना के लाभार्थीमहिलाएं एवं शिशु बालिका
योजना का उद्देश्यप्रसव के समय महिला एवं शिशु बालिका को महालक्ष्मी किट प्रदान करना
योजना का लाभप्रसव के दौरान जरूरतों को पूरा करना
शुभारंभ के समय लाभार्थी16,929
विभागमहिला सशक्तिकरण और बाल विकास विभाग
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन और ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटअभी आरंभ नहीं की गई

UK Mahalaxmi Yojana

जैसे कि हम सभी जानते हैं हमारे देश में लिंग अनुपात के कारण महिलाओं के शिशु बालिका होने पर उनकी ज्यादा देखरेख नहीं की जाती है और ऐसे में उन्हें काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसी समस्या को हल करने के लिए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा 30 जून 2021 को मुख्यमंत्री महा लक्ष्मी योजना का शुभारंभ किया जाएगा। मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के अंतर्गत लोगों को वर्चुअल रूप से जोड़ा जाएगा जिसके लिए अब तक 16000 से ज्यादा आवेदन आ चुके हैं। इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री एवं महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्य के ऊपर है।

  • Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि राज्य से लिंग अनुपात को कम किया जा सके।
  • ताकि महिलाएं और शिशु बालिकाएं आत्मनिर्भर और सशक्त बने।
  • यदि आप भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में जाना होगा।

|JSY| जननी सुरक्षा योजना

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का उद्देश्य

जैसे कि हम सभी जानते हैं हमारे देश में लिंग अनुपात के कारण बालिकाओं के जन्म होने पर उनको किसी भी प्रकार की सुविधा प्रदान नहीं की जाती है। और ऐसे में प्रसव के दौरान महिलाओं और शिशु बालिकाओं को काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से प्रसव के दौरान महिलाओं को एक महालक्ष्मी किट उपलब्ध कराई जाएगी। इस किसके अंतर्गत व सभी सामान शामिल होगा जो प्रसव के दौरान जरूरी होता है।

  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि प्रसव के दौरान महिलाओं और शिशु बालिकाओं को सुविधाएं उपलब्ध कराई जाए।
  • ताकि जन्म होने पर जच्चा-बच्चा की देखभाल की उपेक्षा ना हो और उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।

नवजात बच्चों के किट में उपलब्ध सामान की सूची

इस योजना के तहत मिलने वाली किट में उपलब्ध सामानों की सूची कुछ इस प्रकार है:-

  • मौसम के अनुसार सूती या गर्म दो जोड़े शिशु के कपड़े टोपी जुराब।
  • बेबी तोलिया कॉटन सॉफ्ट
  • एक रबर शीट
  • एक पैकेट कॉटन डायपर (10 पीस)
  • पाउडर
  • एक समस्त सामग्री पैक करने के लिए सूती बैंक
  • एक तेल
  • तीन बेबी साबुन 
  • दो बेबी ब्लांकेट गर्म अथवा कॉटन

महिलाओं के किट में उपलब्ध सामान की सूची

इस योजना के तहत महिलाओं को किट में मिलने वाले सामान की सूची कुछ इस प्रकार है:-

  • 250 ग्राम बदाम गिरी/ सूखी खुमानी/ अखरोट
  • एक फुल साइज गरम शॉल
  • 1 स्टैंडर्ड साइज़ सॉफ्ट कॉटन
  • एक तोलिया
  • बेडशीट के दो जोड़े
  • लिक्विड हैंड वॉश 200ml का
  • कपड़े धोने के दो साबुन
  • दो कॉटन गाउन/ सूट/ साड़ी
  • पांसो ग्राम छुआरे
  • 2 स्टैंडर्ड साइज के जोड़े जुराब के
  • दो पैकेट सैनिटरी नैपकिन
  • एक नारियल/ तिल/ सरसों/ कोलु का तेल
  • दो नहाने के साबुन

गदरपुर में मुख्यमंत्री महा लक्ष्मी योजना का शुभारंभ

गदरपुर के बाल विकास परियोजना कार्यालय द्वारा Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana का शुभारंभ किया गया। जिला के बाल विकास परियोजना अधिकारी द्वारा उन सभी महिलाओं को संबोधित करते हुए कहा गया कि इस योजना के अंतर्गत महालक्ष्मी किट महिलाओं को सशक्त बनाने के लिए प्रदान की जा रही है। इस योजना के अंतर्गत उन महिलाओं को लाभ प्रदान किया जाएगा जिनके प्रथम तथा दूसरी बेटी ने जन्म लिया है। अधिकारी द्वारा विभागीय योजनाओं की जानकारी देते हुए संबोधित महिलाओं को लाभ उठाने की अपील की गई है।

मुख्यमंत्री वात्सल्य योजना

सोमेश्वर तहसील के 16 लाभार्थियों को मिली किट

सोमेश्वर तहसील के आंगनवाड़ी केंद्र द्वारा इस योजना के अंतर्गत किट वितरण की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। इस कार्यक्रम के दौरान जिले के लगभग 16 लाभार्थियों को किट बाटी गई है। इस शुभ अवसर के दौरान सुपरवाइजर नीमा शाह ने लाभार्थियों को अन्य योजनाओं की जानकारी प्रदान की। राज्य की वह सभी महिलाएं जिन्होंने अपनी पहली बालिका संतान को जन्म दिया है उन्हें मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के अंतर्गत लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को प्रसव के बाद एक किट मुहैया कराई जाएगी जिसके अंतर्गत उनकी जरूरत का सामान मौजूद होगा।

उत्तराखंड में मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का हुआ शुभारंभ

17 जुलाई 2021 को उत्तराखंड में मुख्यमंत्री महा लक्ष्मी योजना का शुभारंभ किया गया। इस शुभ अवसर पर महिला एवं बाल विकास मंत्री रेखा आर्य द्वारा लाभार्थी महिलाओं को महालक्ष्मी किट वितरित की गई। साथ ही साथ विभिन्न से लोग की महिलाओं को इस कार्यक्रम से वसूली जोड़ा गया। सरकार द्वारा बताया गया है कि पूरे राज्य के सभी जिलों में कुल 16,929 लाभार्थियों को पहले चरण से लाभान्वित किया गया। उत्तराखंड सरकार द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के तहत 50000 से अधिक महिलाओं को लाभ प्रदान करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। सीएम के द्वारा कहा गया कि यह योजना लिंगानुपात में सुधार लाएगा और राज्य में बेटियों की भ्रूण हत्या को खत्म करेगा।

  • महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास की मंत्री रेखा आर्य द्वारा कहा गया कि यह बेटियों को आगे बढ़ाने एवं मानसिकता को खत्म करने के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण कदम है।
  • UK Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana के माध्यम से बेटियों को प्रोत्साहित किया जाएगा और महिला और पुरुष का समाज में सम्मान महत्व जगाया जाएगा।

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana का हुआ शुभारंभ

जैसे कि हम सभी जानते हैं उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह जी के द्वारा मुख्यमंत्री महालक्ष्मी‌ योजना की शुरुआत राज्य की महिलाओं और बेटियों को प्रसव के दौरान सुरक्षा कवच प्रदान करने हेतु की गई है। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को प्रसव के दौरान एक महालक्ष्मी किट प्रदान की जाएगी जिसका उपयोग करके राज्य की महिलाएं और शिशु बालिका अपनी जरूरतों को पूरा कर सकेंगे। मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना को आज यानी 17 जुलाई 2021 को आरंभ किया जा रहा है। योजना के आरंभ होने के पहले दिन ही 16 हजार से अधिक महिलाओं को लाभान्वित किया जाएगा। इस योजना के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के बाद राज्य की महिलाएं और कन्या शिशु आत्मनिर्भर सशक्त बनेंगी।

  • Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana के अंतर्गत दूसरे महीने में ही लगभग 6000 गांव को इंटरनेट से जोड़ा जाएगा और महालक्ष्मी किट प्रदान की जाएगी।
  • यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र पर जाकर पंजीकरण कराना होगा।

लाभार्थियों को वर्चुअल जोड़ा जाएगा

उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा मुख्यमंत्री महा लक्ष्मी योजना के शुभारंभ के समय लाभार्थियों को पहले चरण में वर्चुअल तरीके से जोड़ा जाएगा। अब तक मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के अंतर्गत वर्चुअल जोड़ने के लिए 16 हजार से अधिक आवेदन हो चुके हैं। 30 जून को लगभग 16929 लाभार्थियों को वर्चुअल जोड़कर उन्हें महालक्ष्मी किट मुहैया कराई जाएगी। इस योजना को आरंभ करते समय जिला में कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। इस योजना को आरंभ करने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री तीर्थ राज सिंह रावत और बाल विकास राज्य मंत्री रेखा आर्य को सौंपी गई है।

  • 30 जून 2021 में मुख्यमंत्री और बाल विकास राज्य मंत्री जी के द्वारा इस योजना का शुभारंभ किया जाएगा।
  • इस शुभ आरंभ के समय लगभग 16000 से अधिक लाभार्थियों को महालक्ष्मी किट उपलब्ध कराई जाएगी।

गौरा देवी कन्या धन योजना

प्रसव के दौरान महिलाओं और कन्याओं को मिलेगी महालक्ष्मी किट

इस योजना के अंतर्गत राज्य की महिलाओं को उनके प्रसव के दौरान एक महालक्ष्मी किट उपलब्ध कराई जाएगी। इस किट के अंतर्गत वह सभी सामान शामिल होगा जो महिलाओं और शिशुओं को प्रसव के दौरान चाहिए होता है। मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि प्रसव के दौरान महिला और शिशु को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाया जा सके। ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े। इस योजना के अंतर्गत महिलाओं को दो बालिकाओं के जन्म पर एक एक किट उपलब्ध कराई जाएगी। एवं किसी महिलाओं के जुड़वा बच्चियां होती हैं तो उनके जन्म पर महिला को केवल एक ही किट उपलब्ध कराई जाएगी परंतु उन दोनों बच्चियों को अलग-अलग दो किट मुहैया कराई जाएंगी।

  • महिलाएं एवं शिशु बालिकाओं को किट मुहैया कराने का लक्ष्य है कि उन्हें प्रसव के दौरान किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े।
  • UK Mahalaxmi Yojana के अंतर्गत वह इस किट का उपयोग करके अपनी जरूरतों को पूरा कर सकते हैं।
UK Mahalaxmi Yojana

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana के लाभ

उत्तराखंड सरकार द्वारा शुरू की गई इस योजना के लाभ कुछ इस प्रकार है:-

  • इस योजना की शुरुआत 30 जून 2021 को राज्य के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा की जाएगी।
  • मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना का लाभ राज्य की महिलाओं और शिशुओं को उनके जन्म के दौरान प्रदान किया जाएगा।
  • सरकार द्वारा इस योजना के अंतर्गत महिलाओं और शिशुओं को प्रसव के बाद एक महालक्ष्मी किट मुहैया कराई जाएगी।
  • इस किट के अंतर्गत वह सभी सामान उपलब्ध होगा जो महिला और शिशु को प्रसव के दौरान चाहिए होता है।
  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि महिलाओं और शिशुओं की जरूरतों को पूरा किया जा सके।
  • UK Mahalaxmi Yojana के अंतर्गत लोगों को प्रसव के बाद महिलाओं और शिशु पालिका के देखभाल के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • बालिकाओं के जन्म होने पर उन्हें एक-एक किट मुहैया कराई जाएगी।
  • यदि किसी महिला के जुड़वा बच्ची हुई है तो उनके जन्म पर महिला को और बच्चे को अलग-अलग किट मुहैया कराई जाएगी।
  • अगर आप भी इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द अपने आंगनवाड़ी केंद्र जाना होगा।
  • वहां जाने के बाद आप आसानी से पंजीकरण करवा सकते हैं।

UK Mahalaxmi Yojana Features

इस योजना से संबंधित विशेषताएं इस प्रकार हैं:-

  • उत्तराखंड के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत जी के द्वारा मुख्यमंत्री महा लक्ष्मी योजना को आरंभ करने की घोषणा की गई।
  • UK Mahalaxmi Yojana को सरकार द्वारा 30 जून 2021 में आरंभ किया जाएगा।
  • महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास राज्यमंत्री रेखा आर्य और मुख्यमंत्री जी के द्वारा इस योजना का शुभारंभ 30 जून को होगा।
  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि समाज से लिंग अनुपात को कम किया जा सके।
  • यदि किसी महिला को बेटी होती है तो उन्हें इस योजना का लाभ मुहैया कराया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत कन्याओं के जन्म होने पर महिला और शिशु कन्या की देखरेख के लिए एक महालक्ष्मी किट मुहैया कराई जाएगी।
  • इस किट में वे सभी सामान उपलब्ध होगा जो महिलाओं को प्रसव के समय चाहिए होता है।
  • मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि प्रसव के बाद शिशु और महिलाओं की देखरेख के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना है।
  • यदि किसी महिला की दो बालिकाएं होती है तो उन्हें एक-एक किट उपलब्ध कराई जाएगी।
  • जुड़वा बच्चे होने पर महिलाओं को एक किट और बच्चियों को एक-एक किट उपलब्ध कराई जाएगी।
  • पहले इस योजना को महिला सशक्तिकरण एवं बाल विकास राज्य रेखा आर्य जी के द्वारा अप्रैल में जारी किया जा रहा था।
  • परंतु कोविड-19 जैसे इस योजना की शुरुआत नहीं की गई।
  • अब इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि महिलाओं को सशक्तिकरण प्राप्त हो।
  • एवं के योजना उनको कारगर साबित होता कि वह अपने हक के लिए बोल सकें।
  • ना केवल महिलाओं को किट मुहैया कराई जाएगी बल्कि राज्य से लिंग अनुपात को कम किया जाएगा।
  • यदि आप भी मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको अपने नजदीकी आंगनवाड़ी केंद्र में जाना होगा।

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना आवेदन के लिए पात्रता

आवेदन के लिए निर्धारित पात्रता मानदंड कुछ इस प्रकार है:-

  • आवेदक उत्तराखंड के स्थाई निवासी होनी चाहिए।
  • केवल महिलाओं और शिशुओं को ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • महिलाओं को प्रसव के बाद ही इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • इस योजना का लाभ उठाने के लिए महिला को शिशु बालिका को जन्म देना होगा।

Important Documents

आवेदन के लिए महत्वपूर्ण दस्तावेज निम्नलिखित हैं:-

  • आधार कार्ड
  • संस्थागत प्रसव प्रमाण पत्र
  • आशा वर्कर द्वारा जारी प्रमाण पत्र
  • परिवार रजिस्ट्री की प्रति
  • आयकरदाता ना होने का प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

Mukhyamantri Mahalaxmi Yojana 2023 के अंतर्गत ऑफलाइन आवेदन की प्रक्रिया

राज्य की जो इच्छुक महिलाएं इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहती हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है।

  • सर्वप्रथम आपको अपने नजदीकी आंगनबाड़ी केंद्र में जाना होगा।
  • वहां जाने के बाद आपको अधिकारी से मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना आवेदन पत्र की मांग करनी होगी।
  • आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद आपको उस पत्र में पूछी गई सभी जानकारी ध्यानपूर्वक दर्ज करनी होगी।
  • जानकारियां दर्ज करने के बाद आपको अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना होगा।
  • दस्तावेज अटैच करने के बाद आपको यह फॉर्म वही आंगनवाड़ी केंद्र में जमा कर देना होगा।
  • अधिकारी द्वारा आपके फॉर्म का सत्यापन किया जाएगा।
  • सत्यापित करने के बाद आपको इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा।

मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

राज्य की जो इच्छुक महिलाएं इस योजना के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करना चाहती हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा क्योंकि सरकार द्वारा इस योजना को 30 जून 2021 में आरंभ किया जाएगा। आरंभ करने के बाद ही सरकार द्वारा इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी। जैसे ही इस योजना के अंतर्गत आधिकारिक वेबसाइट के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से आधिकारिक वेबसाइट के बारे में सभी जानकारी प्रदान करेंगे। यदि तब तक आप को इस योजना से संबंधित कोई भी कठिनाई आती है यह मन में कोई भी प्रश्न आता है तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Uttarakhand- Official Website

8 thoughts on “|Apply| मुख्यमंत्री महालक्ष्मी योजना 2023: UK Mahalaxmi Yojana | लाभ व पात्रता”

  1. Mahalaxmi yojana me koi fix Month h kya jisse phle janmi bachiyon ko Kit nahi milegi…. Ya kuch fix month nahi h…. please reply….. QK aganbari wale fir apne Mann K hisab se de rahe hain….. Government ko ispe kuch fix btana chaiye

    Reply
    • यदि आपके बच्चे का प्रसव 26 जून 2021 के बाद हुआ है तब आपको उत्तराखंड मुख्यमंत्री महालक्मी योजना का लाभ प्रदान किया जायगा अन्यथा आप इस योजना के पात्र नहीं है |
      और यह लाभ महिलाओं को प्रसव के समय ही प्रदान कर दिया जाता है |

      Reply

Leave a Comment