Yojana Labh

www.yojanalabh.com/

|PMKSY| प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन व एप्लीकेशन फॉर्म

PM Krishi Sinchayee Yojana: देश के किसानों को सिंचाई करने के लिए बेहतर उपकरण दिलाने हेतु हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत देश के किसानों को सिंचाई के लिए बेहतर उत्तरण खरीदने हेतु सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी जिसका उपयोग करके वह फसलों को अच्छे से पानी पहुंचा सकेंगे। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2024 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य लाभ विशेषताएं पात्रता एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana से संबंधित संपूर्ण जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढ़ें।

PM Krishi Sinchayee Yojana

Table of Contents

Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana 2024

इस योजना की शुरुआत हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किसानों को विभिन्न प्रकार के लाभ प्रदान करने हेतु की गई है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को खेती के लिए उपकरण खरीदने हेतु सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी। इस सब्सिडी का उपयोग करके के किसान अपनी खेती की सिंचाई के लिए बेहतर तकनीकी के उपकरण खरीदने में सक्षम रहेंगे। Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana के तहत विभिन्न प्रकार के लोगों को लाभ प्रदान किया जाएगा जैसे सेल्फ हेल्प, ग्रुप्स, ट्रस्ट, सहकारी समिति इनकॉरपोरेटेड कंपनी, उत्पादक कृषकों आदि। ना केवल इसी योजना के तहत बल्कि यह सब्सिडी किसानों को अन्य योजनाओं के लिए भी प्रदान की जाएगी जिसमें पानी की बचत होगी कम मेहनत होगी और साथ ही खर्च भी सही तरीके से होगा।

  • सरकार द्वारा इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए 5000 करोड़ रुपये की धनराशि का लक्ष्य निर्धारित कर दिया गया है।
  • PMKSY को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि पानी की कमी होने के कारण खराब हुई फसलों को किसान खराब होने से बचा सके।
  • यदि आप इस योजना के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

पीएम किसान ट्रैक्टर योजना

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के मुख्य तथ्य

इस योजना के तहत मुख्य तथ्य कुछ इस प्रकार है:-

योजना का नामPM Krishi Sinchayee Yojana 2024
किसके द्वारा शुरू की गईमाननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा
योजना के लाभार्थीदेश के किसान
आरंभ वर्ष2015
योजना का उद्देश्यसिंचाई के लिए उपकरण खरीदने हेतु सब्सिडी मुहैया कराना
योजना का लाभफसलों को खराब होने से बचाया जा सकेगा
सब्सिडी की राशिनिर्धारित नहीं की गई
बजट धनराशि5,000 करोड़ रुपये
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन या ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटpmksy.gov.in

PM Krishi Sinchayee Yojana 2024 का उद्देश्य

जैसे कि हम सभी जानते हैं कि सही मात्रा में पानी ना मिलने पर किसानों द्वारा उगाई हुई फसलें खराब हो जाती है और ऐसे किसानों को भारी नुकसान होता है और आर्थिक तंगी का सामना करना पड़ता है। इसी बात को ध्यान में रखते हुए हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के अंतर्गत किसानों को खेती के लिए सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी जिसका उपयोग पर देश के किसान को अच्छी तरीके से पानी दे सकेंगे और उन फसलों की पैदावार अच्छी होगी।

  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि जल संसाधनों का अधिक उपयोग हो सके ताकि बाढ़ और सूखे के कारण फसलों को होने वाले नुकसान को रोका जा सके।
  • PMKSY के माध्यम से देश के किसानों के फसलों की अधिक पैदावार होगी।
  • इस योजना को आरंभ करने का दूसरा मुख्य उद्देश्य है कि किसानों की आय में वृद्धि हो ताकि उन्हें किसी आर्थिक तंगी का सामना ना करना पड़े।
|PMKSY| प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना 2024: ऑनलाइन आवेदन व एप्लीकेशन फॉर्म

राजस्थान की महिलाओं को भी प्राप्त होगा सिंचाई का लाभ

राजस्थान सरकार द्वारा एक अहम निर्णय लिया गया है जिसके तहत अब राजस्थान कि अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति और महिला किसानों को प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ मुहैया कराया जाएगा। सरकार द्वारा किसानों को समय समय पर पानी का उचित और अधिकतम उपयोग कर खेती करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है। और अब राजस्थान सरकार ने महिला किसानों को आगे लाने के लिए कृषि संयंत्रों के लिए अनुदान में बढ़ोतरी करने का निर्णय लिया है। इस निर्णय के माध्यम से राजस्थान महिला किसान आत्मनिर्भर एवं सशक्त बनेंगी।

बांका के किसानों को प्राप्त होगा खेती के लिए प्रशिक्षण

बिहार की सहायक निदेशक पदाधिकारी डॉक्टर अमृता कुमारी जी के द्वारा बताया गया की रिपीट गुड सिखाने के लिए रविंद्र खंडो के साथ चयनित किसानों को बांका कृषि कार्यालय में प्रशिक्षण मुहैया कराया जाएगा। इसके लिए सभी किसानों को रवाना कर दिया गया है एवं वह अब किसान सेंटर ऑफ एक्सीलेंस फॉर वेजिटेबल संस्थान में कोचिंग प्राप्त कर सकेंगे। इस प्रशिक्षण से मिले ज्ञान को वह अपने खेतों में प्रयोग करेंगे। साथी साथ इन सभी किसानों को अनुदान राशि भी मुहैया कराई जाएगी। पदाधिकारी द्वारा बताया गया है कि PM Krishi Sinchayee Yojana के तहत प्रशिक्षण प्राप्त करने के बाद किसान अपनी आमदनी बढ़ाने में सक्षम रहेंगे।

सिंचाई पर सरकार द्वारा 93,068 करोड रुपए खर्च किया जाएंगे

केंद्र सरकार द्वारा किसानों को सिंचाई के लिए साधन उपलब्ध कराने हेतु प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का संचालन किया गया था। इस योजना के माध्यम से किसानों को सिंचाई के लिए उपकरण खरीदने हेतु सिंचाई यंत्रों की खरीद पर सब्सिडी मुहैया कराई जाती है। पहले इस योजना के तहत अंतिम तिथि वर्ष 2021 निर्धारित की गई थी। परंतु हाल ही में ही केंद्रीय मंत्रिमंडल द्वारा इस योजना की अंतिम तिथि बढ़ाकर वर्ष 2026 तक कर दी गई है। सरकार द्वारा बताया गया है कि इस निर्णय का लाभ देश के लगभग 2200000 किसानों को पहुंचाया जाएगा। इस योजना के तहत सिंचाई सुविधाओं पर सरकार द्वारा 93,068 करोड़ रुपए का खर्च किया जाएगा।

बिहार सरकार किसानों को सिंचाई यंत्र पर देगी 90% सब्सिडी

किसानों को सिंचाई के लिए यंत्र पर सब्सिडी मुहैया कराने हेतु केंद्र सरकार द्वारा PM Krishi Sinchayee Yojana का शुभारंभ किया गया था। सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य था कि किसानों को फसलों की सिंचाई के लिए सस्ते एवं टिकाऊ उपकरण मुहैया कराई जा सके ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े। इस योजना के तहत बिहार सरकार की ओर से राज्य के किसानों को 90% सब्सिडी मुहैया कराई जा रही है। योजना के तहत आवेदन करने के बाद राज्य के किसान सब्सिडी पर सिंचाई यंत्र खरीदने में सक्षम रहेंगे एवं उन्हें फसलों की सिंचाई करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना नहीं करना पड़ेगा।

बलरामपुर जिले में हुआ सूर्य नहर राष्ट्रीय परियोजना का उद्घाटन

हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा आ गई में ही उत्तर प्रदेश के बलरामपुर जिले में सरयू नहर राष्ट्रीय परियोजना का उद्घाटन किया गया। PM Krishi Sinchayee Yojana के तहत इस परियोजना मे 14 लाख हैक्टेयर से अधिक खेतों की सिंचाई के लिए किसानों को पानी उपलब्ध कराया जाएगा। साथ ही साथ सरकार द्वारा घोषणा की गई है कि इस परियोजना का लाभ उत्तर प्रदेश के 6200 से अधिक गांवों के 29 लाख किसानों को पहुंचाया जाएगा। हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी के द्वारा एक आधिकारिक बयान के माध्यम से बताया गया कि इस परियोजना की शुरुआत वर्ष 1978 मैं की गई थी परंतु किसी कारण इस परियोजना को टाल दिया गया था।

15 सितंबर 2021 तक कर सकते हैं उदयपुर के किसान आवेदन

डिप्टी डायरेक्टर डॉ ए के एन सिंह द्वारा बताया गया है कि इस योजना के माध्यम से ड्रिप लगाने के लिए किसानों को 70% की सब्सिडी की राशि प्रदान की जाती है। इसके साथ-साथ प्लांट की खरीद पर 60% की सब्सिडी छोटे व सीमांत किसानों को प्रदान की जाती है और 50% की सब्सिडी अन्य किसानों को मुहैया कराई जाती है। यदि आप प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के तहत आवेदन करना होगा। ‌ उदयपुर के किसान इस योजना के तहत आवेदन राज किसान साथी पोर्टल पर ईमित्र के माध्यम से कर सकते हैं। 

हर खेत को पानी योजना का शुभारंभ

केंद्र सरकार द्वारा देश के किसानों को सिंचाई उपकरण खरीदने पर सब्सिडी मुहैया कराने हेतु प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से खेतों की सिंचाई के लिए किसानों को उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। PM Krishi Sinchayee Yojana को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि किसानों को सिंचाई करने में किसी भी प्रकार की कठिनाई का सामना ना करना पड़े और उनकी आय में वृद्धि हो सके। इस योजना के माध्यम से फसल की गुणवत्ता सुनिश्चित की जाएगी। हाल ही में ही सरकार द्वारा इस योजना के तहत हर खेत को पानी योजना का शुभारंभ किया गया है। 

  • इस योजना के माध्यम से सरकार द्वारा सभी खेतों में पानी मुहैया कराया जाएगा।
  • हर खेत को पानी योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए कमांड क्षेत्र विकास एवं प्रबंधन मंत्रालय द्वारा वित्तीय सहायता मुहैया कराई जाएगी।
  • इस सहायता का उपयोग कर किसानों को सिंचाई की सुविधा प्राप्त होगी एवं उनके खेतों तक पानी पहुंच सकेगा।

PM Krishi Sinchayee Yojana का बजट

22 दिसंबर 2020 को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जी के द्वारा एक वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से इस योजना के तहत 1706 करोड रुपए का बजट आवंटन किया गया। प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के तहत मध्य प्रदेश 682 करोड़ 40 लाख 40 हजार रुपये का शेयर है। इस योजना के तहत मध्यप्रदेश के मंडला डिंडोरी शहडोल उमरिया तथा सिंगरौली जिले शामिल किए गए हैं। साथ ही साथ सरकार द्वारा निर्देश दिए गए हैं इन सभी जिलों में बोरवेल का निर्माण किया जाएगा जिससे किसानों को बेहतर सिंचाई की सुविधा मुहैया कराई जाएंगी। यह बोरवेल इंटीग्रेशन फैसिलिटी प्रदान करके बनवाए जाएंगे और इस बोरवेल का एरिया लगभग 62135 हेक्टेयर तक होगा।

प्रधानमंत्री अधिक फसल बूंद योजना

प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना को प्रधानमंत्री अधिक फसल बूंद योजना के नाम से भी जाना जाता है। इस योजना को सरकार द्वारा 5 वर्षों के लिए देश की खेती करने वाले क्षेत्रों के निय आरंभ किया गया है। देश के प्रति कृषि क्षेत्र में पानी मुहैया कराया जाएगा और देश मैं फसल राशन को बढ़ावा दिया जाएगा। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि किसानों के जीवन स्तर में काफी सुधार पैदा हो और फसल की पैदावार अच्छी हो। इस योजना के अंतर्गत किसानों के जीवन स्तर के साथ-साथ विशेष ध्यान अधिक फसल जल प्रबंधन प्रणाली क्षमता निर्माण प्रशिक्षण और जागरूकता अभियान पर भी दिया जाएगा।

  • इस योजना का लाभ देश के विभिन्न किसानों को प्रदान किया जाएगा और उन्हें सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध कराया जाएगा।
  • प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के माध्यम से देश के कृषि क्षेत्र को बढ़ावा मिलेगा और किसानों की आर्थिक तंगी में सुधार आएगा।

राष्ट्रीय किसान डेटाबेस योजना

सीमांत किसानों को मिलेगी 80% सब्सिडी

जैसे कि हम सभी जानते हैं किसानों को खेती के लिए उपकरण खरीदने हेतु सब्सिडी मुहैया कराने के लिए हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के तहत उपकरण खरीदने के साथ-साथ यदि कोई किसान स्प्रिंकलर पाइप खरीदता है तो उसे 80% की सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी। सब्सिडी सीमांत किसानों को आवेदन स्वीकृत होने के बाद ही मुहैया कराई जाएगी। स्प्रिंकलर पाइप का उपयोग किसान ढलान और कम ऊंचाई पर सिंचाई करने के लिए उपयोग कर सकते हैं। स्प्रिंकलर पाइप के माध्यम से आप विभिन्न फसलों का उत्पादन कर सकते हैं जैसे

  • अदरक
  • लहसुन
  • फूल गोभी
  • पता गोभी
  • आलू
  • मटर
  • प्याज
  • गोभी
  • ब्रोकली
  • स्ट्रॉबेरी
  • मूंगफली
  • सरसों की पत्तेदार सब्जियां
  • दाल
  • चाय आदि

Benefits Of PM Krishi Sinchayee Yojana

इस योजना के तहत लाभ कुछ इस प्रकार है:-

  • इस योजना के अंतर्गत देश के किसानों को सिंचाई करने हेतु उपकरण मुहैया कराए जाएंगे।
  • उपकरण का उपयोग करके किसान अपने खेतों में सिंचाई आसानी से कर सकेंगे।
  • PM Krishi Sinchayee Yojana को आरंभ करने का मुख्य लाभ है कि किसानों को सिंचाई करने में किसी प्रकार की कमी ना आए।
  • सूखा पड़ने के कारण खराब होने वाली फसलें अब पानी प्राप्त कर सही पैदावार प्रदान कर सकेंगी।
  • इस योजना के माध्यम से जल संसाधन हो सकेगा।
  • Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana के माध्यम से देश में कृषि क्षेत्र का विकास होगा और अर्थव्यवस्था में पूर्ण विकास आएगा।
  • देश के किसान सब्सिडी प्राप्त करने के बाद उपकरण खरीद पाएंगे और फसलों की अच्छी पैदावार कर सकेंगे।
  • ना केवल फसलों की पैदावार बढ़ेगी बल्कि देश के किसानों की आय में भी वृद्धि आएगी।
  • PMKSY के माध्यम से देश के किसान अपना जीवन अच्छे से व्यतीत कर सकेंगे।
  • अब किसानों को किसी भी प्रकार की आर्थिक तंगी का सामना नहीं करना पड़ेगा।
  • यदि आप भी प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको अपने राज्य के कृषि विभाग के आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।
  • आधिकारिक वेबसाइट पर जाने के बाद आप आसानी से आवेदन कर सकते हैं।

पीएम कृषि सिंचाई योजना की विशेषताएं

इस योजना के तहत विशेषताएं कुछ इस प्रकार है:-

Step 1

  • हमारे माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के द्वारा किसानों को सिंचाई के लिए उपकरण मुहैया कराने हेतु प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना का शुभारंभ वर्ष 2015 में किया गया है।
  • इस योजना के अंतर्गत देश के किसानों को उपकरण खरीदने के लिए सब्सिडी मुहैया कराई जाएगी।
  • इस सब्सिडी का उपयोग करके देश के किसान उपकरण खरीदने में सक्षम रहेंगे।
  • उपकरणों के माध्यम से जल संसाधन किया जाएगा जिससे फसलों की पैदावार अच्छे से होगी।
  • पीएम कृषि सिंचाई योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि देश के किसानों को फसलों की उगाई करने मैं पानी की कमी ना हो।
  • PMKSY के अंतर्गत उपकरण प्राप्त करने के बाद किसानों की आय में वृद्धि होगी।
  • प्रदान की जाने वाली अनुदान धनराशि का 75% केंद्र सरकार द्वारा वहन किया जाएगा एवं 25% राज्य सरकार द्वारा किसानों को मुहैया कराया जाएगा।
  • इस योजना के अंतर्गत किसान विभिन्न उपकरण जैसे ड्रिप सिंचाई स्प्रिंकल सिंचाई आदि प्राप्त कर सकेंगे।

Step 2

  • इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि कृषि क्षेत्र में विस्तार हो और देश की अर्थव्यवस्था बड़े।
  • कृषि के समय इन उपकरणों का उपयोग करके 40% से 50% पानी की बचत हो सकेगी।
  • केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2018 और वर्ष 2019 के दौरान 2000 करोड़ रुपए का खर्च किया गया है एवं वित्तीय वर्ष 2019 और 2020 के दौरान सरकार द्वारा इस योजना पर 3000 करोड रुपए का खर्च वहन किया गया है।
  • PMKSY के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के बाद देश के किसान आत्मनिर्भर व सशक्त बने हैं और उनकी आय में भी वृद्धि हुई है
  • वह सभी किसान जो सूखा पड़ने के कारण खेती बर्बाद होने से परेशान थे वह अब इस योजना का लाभ प्राप्त कर रहे हैं।
  • यदि आप Pradhan Mantri Krishi Sinchayee Yojana का लाभ प्राप्त करना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द अपने राज्य के कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर आवेदन करना होगा।

किसान सम्मान निधि योजना लिस्ट

PM Krishi Sinchayee Yojana के तहत पात्रता

इस योजना के तहत पात्रता निम्नलिखित है:-

  • आवेदक को भारत का स्थाई निवासी होना अनिवार्य है।
  • उम्मीदवार के पास कृषि योग्य भूमि होनी चाहिए।
  • इस योजना के तहत सेल्फ हेल्प ग्रुप ट्रस्ट सहकारी समिति इनकॉरपोरेटेड कंपनियां और उत्पादक कृषकों के संभोग को लाभ प्रदान किया जाएगा।
  • PMKSY का लाभ उन संस्थानों को भी प्रदान किया जाएगा जो न्यूनतम 7 वर्षों के किराए एग्रीमेंट पर कृषि योग्य भूमि पर खेती कर रहे हैं।

Important Documents Under PMKSY

इस योजना के तहत महत्वपूर्ण दस्तावेज निम्नलिखित है:-

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • किसानों की जमीन के कागजात
  • बैंक खाता विवरण
  • जमीन की जमाबंदी
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ

PM Krishi Sinchayee Yojana के तहत आवेदन की प्रक्रिया

देश के सभी किसान जो PMKSY के अंतर्गत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें नीचे दिए गए चरणों का पालन करना है।

  • आवेदन करने हेतु आपको अपने राज्य की कृषि विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है।
  • वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज खुल कर आएगा।
  • इस होम पेज पर आपको प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना के विकल्प पर क्लिक करना है
  • क्लिक करने के बाद आपके सामने आवेदन पत्र खुलकर आएगा।
  • आवेदन पत्र प्राप्त करने के बाद यहां पहुंची गई सभी जानकारी आपको ध्यान पूर्वक दर्ज करनी है।
  • सभी जानकारी दर्ज करने के बाद आपको अपने महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अटैच करना है।
  • दस्तावेज़ अटैच करने के बाद आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है।
  • इस प्रकार आप इस योजना के तहत आवेदन कर सकते हैं।

सभी राज्यों के कृषि विभाग एवं आधिकारिक वेबसाइट

इस योजना के तहत सभी राज्यों के कृषि विभाग एवं आधिकारिक वेबसाइट कुछ इस प्रकार है:-

S No.Name of StatesOfficial Website
1A and Islandshttp://agri.and.nic.in
2Andhra Pradeshhttp://www.apagrisnet.gov.in
3Arunachal Pradeshhttp://arunachalpradesh.nic.in
4Assamhttps://agri-horti.assam.gov.in/
5Biharhttp://krishi.bih.nic.inhttp://krishimis.in
6Chandigarhhttp://agripb.gov.in
7Chhattisgarhhttp://agridept.cg.gov.in
8Dadra and Nagar Havelihttp://dnh.nic.in/Departments/Agriculture.aspx
9Daman and Diuhttp://www.daman.nic.in/websites/zonal_agriculture_daman/index.asp
10Delhihttp://agricoop.nic.in/
11Goahttp://agri.goa.gov.in
12Gujarathttps://agri.gujarat.gov.in/
13Haryanahttp://agriharyana.gov.in/
14Himachal Pradeshhttp://www.hpagriculture.com/
15Jammu & Kashmirhttp://www.jkapd.nic.in/
16Jharkhandhttp://www.jharkhand.gov.in/agri
17Karnatakahttp://raitamitra.kar.nic.in/KAN/index.asp
18Keralahttp://www.keralaagriculture.gov.in/
19Lakshadweephttp://lakagri.nic.in/
20Madhya Pradeshhttp://mpkrishi.mp.gov.in/
21Maharashtrahttp://krishi.maharashtra.gov.in
22Manipurhttp://agrimanipur.gov.in/
23Meghalayahttp://www.megagriculture.gov.in/
24Mizoramhttp://agriculturemizoram.nic.in/
24Nagalandhttp://agringl.nic.in/
25Odishahttp://agriodisha.nic.in/
26Puducherryhttp://agri.puducherry.gov.in/
27Punjabhttp://agripb.gov.in/
28Rajasthanhttp://www.krishi.rajasthan.gov.inhttp://agriculture.rajasthan.gov.in/
29Sikkimhttp://www.sikkimagrisnet.org
30Tamilnaduhttp://www.tn.gov.in/department/2
31Telanganahttp://agri.telangana.gov.in/
32Tripurahttp://agri.tripura.gov.in/
33Uttar Pradeshhttp://upagripardarshi.gov.in/StaticPages/UttarPradesh4.aspx
34Uttarakhandhttp://agriculture.uk.gov.in/
35West Bengalhttps://wb.gov.in/portal/web/guest/agriculture

Leave a Comment