Yojana Labh

www.yojanalabh.com/

मनरेगा योजना: NREGA Job Card Download ऑनलाइन आवेदन @nrega.nic.in

MGNREGA Yojana:- भारत देश में ऐसे कई परिवार हैं जिनकी आर्थिक स्थिति खराब है और उन्हें दो वक्त का खाना  भी नसीब नहीं होता हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए 2005 में कांग्रेस सरकार ने (MNREGA) Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act को शुरू किया था।  मनरेगा योजना राष्ट्रीय स्तर पर जारी की गई थी और आज 2023 में भाजपा सरकार ने भी इस योजना को जारी रखा है। इस योजना के तहत केन्द्रीय सरकार पूरे भारत देश के मजदूर लोगों को एक वित्तीय वर्ष में कम से कम 100 दिनों की ज़मानता मजदूरी रोजगार प्रदान करेगी। आज इस लेख के द्वारा हम आपको मनरेगा योजना के बारे में बताएंगे मनरेगा के मुख्य विचार मनरेगा को संचालित करने का उद्देश्य लाभ और विशेषताएं पात्रता मापदंड आवश्यक दस्तावेज और MNREGA के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया कृपया आप इस लेख को पूरा एवं ध्यानपूर्वक पढें।

महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम (MGNREGA Yojana)

मनरेगा योजना महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम और (Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act) 7 सितंबर 2005 को अधिनियमित की गई थी। इस योजना में ग्रामीण परिवार को एक वित्तीय वर्ष में 100 दिनों की  ज़मानता मजदूरी रोजगार प्रदान की जाएगी। मनरेगा योजना अधिनियम कमजोर परिवार को न्यूनतम स्तर की आजीविका सुरक्षा प्रदान करेगी और उन्हें गरीबी से उभारेगी।

मनरेगा योजना का पुराना नाम

(MGNREGA Yojana) मनरेगा योजना का पुराना नाम नरेगा योजना था। इस योजना का नाम नरेगा को बदलकर मनरेगा  2 अक्टूबर 2009 को रख दिया गया। हमारे भारत राष्ट्र के पिता महात्मा गाँधी का नाम नरेगा में जोड़कर रख दिया गया।  25 अगस्त 2005 को इस योजना का कानून बना था और 2 फरवरी 2006 से यह योजना 200 जिलों में शुरू की गई।

|MGNREGA| नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट

MGNREGA Yojana के मुख्य विचार

योजना का नामMGNREGA Yojana (महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम)
योजना का शुभारंभभारत सरकार द्वारा
किस वर्ष में शुरू की गई2005
लाभार्थीग्रामीण परिवार के लोग
उद्देश्यग्रामीण परिवार के लोगों को जमानता 100 दिनों की मजदूरी देना।
स्थानपूर्ण भारत
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttps://nrega.nic.in/netnrega/HomeGP.aspx

MGNREGA Yojana का उद्देश्य

भारत सरकार द्वारा महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम योजना को शुरू करने का मुख्य उद्देश्य ग्रामीण क्षेत्रों के नागरिकों को 100 दिन तक रोजगार प्रदान करना है।  रोजगार होने के कारण ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों का विकास होगा और उनकी आर्थिक स्थिति में भी सुधार आएगा। MGNREGA Yojana अधिनियम कमजोर परिवार को न्यूनतम स्तर की आजीविका सुरक्षा प्रदान करेगी और उन्हें गरीबी से उभारेगी।

मनरेगा स्कीम के तहत काम

  • लघु सिंचाई
  • बाढ़ नियंत्रण
  • बागवानी
  • भूमि विकास
  • जल संरक्षण
  • गौशाला निर्माण कार्य
  • ग्रामीण संपर्क मार्ग निर्माण
  • सूखे की रोकथाम के अंतर्गत वृक्षारोपण
  • विभिन्न तरह के आवास निर्माण

मनरेगा जॉब कार्ड

MGNREGA Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर पंजीयन करने के बाद आपको MGNREGA Job Card  प्राप्त होगा। मनरेगा जॉब कार्ड  एक प्राथमिक दस्तावेज़ है जो आपको रोजगार प्राप्त करने के लिए आवश्यक है।  मनरेगा जॉब कार्ड मनरेगा योजना के तहत स्थानीय ग्राम पंचायत के साथ रजिस्टर्ड होता है। इस  जॉब कार्ड में व्यक्ति का नाम, रजिस्ट्रेशन नंबर, घर में आवेदकों की जानकारी, आदि होती है।  मनरेगा जॉब कार्ड का उपयोग आप बैंक खाता खोलने एवं KYC को पूरा करने के लिए भी कर सकते हैं।

MGNREGA Yojana के लाभ और विशेषताएं

  • मनरेगा योजना महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम और (Mahatma Gandhi National Rural Employment Guarantee Act) 7 सितंबर 2005 को अधिनियमित की गई थी।
  • महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम योजना (मनरेगा) में ग्रामीण परिवार को एक वित्तीय वर्ष में 100 दिनों की  ज़मानता मजदूरी रोजगार प्रदान की जाएगी।
  • मनरेगा योजना अधिनियम कमजोर परिवार को न्यूनतम स्तर की आजीविका सुरक्षा प्रदान करेगी और उन्हें गरीबी से उभारेगी।
  • मनरेगा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदक को दिन के अंदर ही जॉब कार्ड दिया जायेगा और उस जॉब कार्ड के मिलने के बाद लाभार्थी को 100 दिनों तक की रोजगार गारंटी मिलेगी।
  •  महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम योजना (मनरेगा) के तहत एक व्यक्ति को एक वर्ष में केवल 100 दिनों तक ही काम दिया जाएगा।
  • MGNREGA योजना में मनरेगा जॉब कार्ड बनवाना आवश्यक है।
  • भारत देश में जो भी काम मज़दूरों के होते हैं वह सभी  सरकारी काम  सरकार मनरेगा योजना के अंतर्गत कराती है।
  • मनरेगा योजना के तहत 1 दिन में मजदूर  केवल 8 घंटे काम करेगा।

|BPL List| बीपीएल लिस्ट 

महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम योजना  के पात्रता मापदंड

  • MGNREGA योजना का लाभ उठाने के लिए आवेदक भारत देश का मूल निवासी होना चाहिए।
  • आवेदक की आयु 18 वर्ष या उससे अधिक होनी चाहिए।
  • आवेदक गरीबी रेखा से नीचे आने वाले परिवारों से होना चाहिए।
  • आवेदक काम करने का इच्छुक होना चाहिए।
  • आवेदक के पास बीपीएल राशन कार्ड होना अनिवार्य है।

MGNREGA Yojana के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • आयु प्रमाण पत्र
  • आय प्रमाण पत्र
  • बीपीएल राशन कार्ड
  • मूल निवासी प्रमाण पत्र
  • बैंक खाता विवरण
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

मनरेगा योजना के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

  • महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम योजना का लाभ लेने के लिए आपको ग्राम पंचायत दफ्तर में जाना होगा और वहाँ जाकर अपना पंजीयन करवाना होगा।
  • पंजीयन करवाने के लिए आपको आवेदन पत्र भरना होगा।
  • यह आवेदन पत्र आप को ग्राम पंचायत से प्राप्त होगा।
  • आवेदन पत्र में पूछी गई सभी जानकारी को भरें एवं  सभी ज़रूरी दस्तावेज को आवेदन पत्र के साथ अटैच करें।
  • अपना आवेदन पत्र अधिकारी को जमा करें और वह अधिकारी आप का पंजीयन मनरेगा कि अधिकारिक वेबसाइट पर कर देगा।
  • पंजीयन होने के बाद आपको मनरेगा जाब काल issue कर दिया जायेगा।

MGNREGA जॉब कॉल के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया

MGNREGA Yojana
  •  उसके बाद होम पेज खुल जाएगा। होम पेज पर आपको ग्राम पंचायत के सेक्शन में ‘Generate reports’ के विकल्प पर क्लिक करना होगा।
  •  क्लिक करने के बाद आपके सामने राज्यों की सूची आ जाएगी।
  •  उसमें से अपना राज्य चुनें। राज्य चुनने के बाद आपको कुछ जानकारी दर्ज करनी होगी जैसे District, block, पंचायत आदि।
  • इसके बाद ‘Proceed’ के विकल्प पर क्लिक करें।
  • अब आपके सामने एक Registration form आएगा उसने मांगी गई सभी जानकारी को भरें|
  •  उसके बाद ‘submit’ के विकल्प पर क्लिक करें।
  •  अब आपकी MGNREGA जॉब कार्ड के लिए आवेदन करने की प्रक्रिया पूरी हुई।

Leave a Comment