Yojana Labh

www.yojanalabh.com/

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना 2024: आवेदन कैसे करें, पात्रता एवं लाभ देखें

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana:- राजस्थान सरकार द्वारा नवजात शिशुओ की उचित देखभाल के लिए एक योजना की शुरूआत की गई है जिसका नाम राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना है। इस योजना की घोषणा 9 फरवरी 2020 को प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्री रघु शर्मा जी के द्वारा एम.एम.एस मेडिकल कॉलेज के आडिटोरियम मे कंगारू मदर केयर कॉन्फ्रेस के दौरान की गई है। इस योजना के तहत कुपोषण का शिकार बच्चे जिनका वजन कम है या जिनका जन्म समय से पूर्व हुआ है उन बच्चो को चिकित्सा लाभ प्रदान किया जाएगा। राजस्थान नवजात शिशु सुरक्षा योजना के माध्यम से राज्य सरकार द्वारा नवजात शिशुओ की मृत्यु दर मे कमी लाने का प्रयास किया जाएगा।

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana 2024

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के तहत राज्य मे कंगारू मदर केयर पद्धति को लागू कर नवजात शिशुओ की देखभाल की जाएगी। ताकि राज्य मे नवजात शिशुओ की मृत्यु दर मे कमी हो सके। इसके लिए राज्य मे जल्दी ही ट्रेनिंग प्रोग्राम शुरू किये जाएगें। Navjaat Suraksha Yojana के अन्तर्गत ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए 77 मास्टर ट्रेनरो को प्रशिक्षित किया जाएगा जो अगल अगल जिले व ब्लॉक स्तर पर जाकर लोगो को जागरूक करेगें। इस योजना के तहत समय समय पर नवजात शिशुओ की चिकित्सीय जांच भी की जाएगी। इसके लिए कंगारू मदर केयर ट्रीटमेंट को अपनाया जाएगा। ताकि बच्चे स्वास्थ्य पर नजर रखी जा सके। इस योजना का लाभ माँ व बच्चा दोनो को प्राप्त होगा। अगर प्रसव के दौरान शिशु की मृत्यु हो जाती है तो भी माँ को योजना का लाभ प्राप्त होगा।

मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना राजस्थान

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना की संक्षिप्त जानकारी

योजना का नामRajasthan Navjaat Suraksha Yojana
आरम्भ की गईस्वास्थ्य मंत्री रघु जी के द्वारा
कब आरम्भ की गई9 फरवरी 2020
सम्बन्धित विभागस्वास्थ्य विभाग
राज्यराजस्थान
वर्ष2024
लाभार्थीराज्य के नवजात शिशु
उद्देश्यराज्य के नवजात शिशुओ को स्वास्थ्य सुरक्षा प्रदान करना।
आवेदन प्रक्रियाशीघ्र आरम्भ की जाएगी।
ऑफिशियल वेबसाइटNA

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana का उद्देश्य

नवजात सुरक्षा योजना का शुरू करने का मुख्य उद्देश्य राज्य मे जन्म लेने वाले बच्चे के स्वास्थ्य को ध्यान मे रखकर उनको चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराना है। ताकि उनको सुरक्षा दी जा सके। और नवजात शिशुओ की मृत्यु दर मे कमी की सके। यह तो आप सभी जानते है कि राजस्थान मे ऐसे कई नवजात शिशु है जिनकी स्वास्थ्य ठीक न होने के कारण मृत्यु हो चुकी है इसी को ध्यान मे रखते हुए राजस्थान सरकार ने नवजात सुरक्षा योजना को शुरू किया गया है

ताकि राज्य मे किसी भी नवजात की मृत्यु न हो सके इसके लिए जल्दी प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया जाएगा। जिसके माध्यम से नवजात शिशुओं को बेहतर चिकित्सा सुविधा प्रदान करके उचित स्वास्थ्य देखभाल की जाएगी। Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana के तहत स्वास्थ्य विभाग राज्य मे कंगारू मदर केयर तकनीकी को बढ़ावा देगा ताकि निरन्तर त्वचा से त्वचा संपर्क B/W माँ और बच्चा दोनो को प्रदान किया जा सके।

मुख्यमंत्री राजश्री योजना

क्या है कंगारू मदर केयर तकनीक

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के तहत शिशुओ को कंगारू मदर केयर के आधार पर चिकित्सीय सुविधा दी जाएगी। यह एक ऐसी तकनीक है जिसमे कम खर्च मे बेहतर ढंग से इलाज किया जाता है इस तकनीक मे जैसे एक कंगारू अपने बच्चे की सुरक्षा करता है इसी प्रकार नवजात शिशु की सुरक्षा की जाएगी। जिसमे नजवात बच्चो को पूरी तरहा से सुरक्षा दी जाएगी। जिससे बच्चो की मृत्यु दर मे कमी आएगी।

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के लाभ

  • Navjaat Suraksha Yojana को राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री रघु शर्मा जी के द्वारा शुरू किया गया है।
  • जिसके माध्यम से सरकार द्वारा शिशुओ की मृत्यु दर को कम करने का प्रयास किया जाएगा।
  • इसके अलावा इस योजना के तहत उचित पोषण और सन्तुलित आहार लेने के हेतु प्रोत्साहित किया जाएगा।
  • जिससे उनके बच्चे कुपोषणा का शिकार न हो।
  • राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के माध्यम से कम वजन वाले, कुपोषित, और समय से पूर्व जन्म लेने वाले नवजात शिशुओ को स्वास्थ्य सम्बन्धी सुरक्षा सुविधाएं दी जाएगी।
  • इसके लिए राज्य मे स्वास्थ्य विभाग द्वारा कंगारू मदर केयर तकनीक को अपनाया जाएगा।
  • ताकि शिशुओ को उचित चिकित्सीय सुविधा उपलब्ध करायी जा सके और उनको सुरक्षा दी जा सके।
  • इसके लिए 77 मास्टर ट्रेनर राज्य के स्वास्थ्य कर्मचारियो को प्रशिक्षित करेगें जो जिला व ब्लॉक स्तर पर जाकर सभी लोगो को जागरूक करेगें।

Navjaat Suraksha Yojana की पात्रता

  • राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए नवजात शिशु के माता पिता राजस्थान राज्य के मूल निवासी होने चाहिए।
  • जिन महिलाओं को प्रसव के समय अस्पताल मे भर्ती कराया जाएगा उनको इस योजना का लाभ प्राप्त होगा।
  • महिला की आयु 18 वर्ष या इससे अधिक होनी चाहिए।

आवश्यक दस्तावेज़

  • शिशु के माता पिता का आधार कार्ड।
  • निवास प्रमाण पत्र।
  • पैन कार्ड।
  • बैंक खाता
  • शिशु का जन्म प्रमाण पत्र।
  • राशन कार्ड
  • आय प्रमाण पत्र।
  • मोबाइल नम्बर।

प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना 2024 के तहत आवेदन प्रक्रिया

राज्य के जो कोई भी नागरिक राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना चाहते है तो उनको अभी थोड़े दिनो की प्रतिक्षा करनी होगी। क्योकिं अभी इस योजना को शुरू नही किया गया है। जल्दी ही सरकार द्वारा Navjaat Suraksha Yojana को लागू आवेदन प्रक्रिया शुरू की जाएगी और आवेदन से सम्बन्धित जानकारी प्रकाशित की जाएगी। तो हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम अवश्य अवगत कराएगें। ताकि आप भी इस योजना मे आवेदन कर सके और लाभ प्राप्त कर सके।

FAQs

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना की कब और किसके घोषणा की गई है?

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana की घोषणा 9 फरवरी 2020 को प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री श्री रघु शर्मा जी के द्वारा की गई है।

Rajasthan Navjaat Suraksha Yojana क्या है?

राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना के माध्यम से कुपोषण का शिकार बच्चे जिनका वजन कम है या जिनका जन्म समय से पूर्व हुआ है उन बच्चो को चिकित्सा लाभ प्रदान किया जाएगा।

नवजात सुरक्षा योजना का क्या उद्देश्य है?

Navjaat Suraksha Yojana का उद्देश्य नवजात शिशुओं की सुरक्षा करना और शिशु मृत्यु दर मे कमी करना है।

Leave a Comment