Yojana Labh

www.yojanalabh.com/

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2024: Matra Bhumi ऑनलाइन आवेदन | लाभ व पात्रता

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana:- उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा बुधवार यानी 15 सितंबर 2021 को उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना का शुभारंभ किया गया। इस योजना को आरंभ करने की घोषणा मुख्यमंत्री जी के द्वारा सरकारी आवास कालिदास मार्ग पर आयोजित कार्यक्रम के दौरान वर्चुअल माध्यम से की गई। सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने का मुख्य लक्ष्य है कि गांव में होने वाले अब स्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में हर व्यक्ति को सीधी हिस्सेदारी का मौका प्रदान किया जाए। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना 2024 से जुड़ी संपूर्ण जानकारी जैसे उद्देश्य लाभ विशेषताएं पात्रता एवं आवेदन की प्रक्रिया स्पष्ट करने जा रहे हैं। UP Matra Bhumi Yojana से संबंधित जानकारी प्राप्त करने हेतु हमारे इस लेख को विस्तार पूर्वक पढे।

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2024

इस योजना की शुरुआत उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के द्वारा गांव में विकास लाने के लिए की गई है। इस योजना के तहत गांव में होने वाली अब स्थापना विकास के कार्यों में कोई भी मनचाहा व्यक्ति सीधे हिस्सेदारी कर सकता है। इस अहम कार्य के लिए उस व्यक्ति को परियोजना की कुल लागत का 50 फ़ीसदी खर्च करना होगा और बाकी का 50 फ़ीसदी खर्च सरकार द्वारा किया जाएगा। प्रत्येक व्यक्ति जो UP Matra Bhumi Scheme के तहत गांव में विकास लाने के लिए विभिन्न जगहों जैसे स्वास्थ्य केंद्र आंगनबाड़ी पुस्तकालय स्टेडियम व्यायामशाला ओपन जिम पशु नस्ल सुधार केंद्र फायर सर्विस स्टेशन की स्थापना करता है तो बदले में परियोजना का नामकरण सहयोगी व्यक्ति की इच्छा अनुसार परिजनों के नाम पर किया जाएगा।

  • साथ ही साथ माननीय मुख्यमंत्री जी के द्वारा बताया गया कि-
  • इस योजना को प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना
  • और जिला पंचायतों के तहत हॉट मिक्स
  • तथा फलदार रिक्लेमेशन के तहत विकसित किया गया है।
  • सरकार द्वारा गांव में विकास लाने के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण योजना बनाई गई है जिसमें आमजन की भागीदारी भी हो सकती है।
  • यूपी मातृभूमि योजना के तहत परियोजना की कुल लागत का आधा खर्च उठा कर व्यक्ति अपने नाम पर पूरा क्रेडिट प्राप्त कर सकता है।
Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के मुख्य तथ्य

यूपी सरकार द्वारा शुरू की गई मातृभूमि योजना की कुछ महत्वपूर्ण हाइलाइट्स इस प्रकार है:-

योजना का नामUttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2024
किसके द्वारा शुरू की गईमुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा
आरंभ तिथि15 सितंबर 2021
योजना के लाभार्थीराज्य के गांव
योजना का उद्देश्यगांवों में विकास लाना
योजना का लाभआमजनों को सीधे हिस्सेदारी का मौका
आमजनों द्वारा खर्चकुल लागत का 50 फ़ीसदी
सरकार द्वारा खर्चकुल लागत का 50 फ़ीसदी
आवेदन की प्रक्रियाअभी घोषित नहीं की गई
आधिकारिक वेबसाइटup.gov.in

UP Mathrubhumi Yojana का उद्देश्य

जैसे कि आप सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश में 80% लोग गांव के रहने वाले हैं। और गांव में विकास ना होने के कारण उन्हें विभिन्न सुविधाओं का लाभ उठाने के लिए शहरों के चक्कर काटने पड़ते हैं। इसी समस्या को मध्य नजर रखते हुए उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा प्रधानमंत्री सड़क विक्रेता योजना के तहत उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के माध्यम से आमजन को विकास कार्यों में प्रत्यक्ष भागीदारी बनाने का मौका दिया जाएगा। इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि गांव में विकास लाया जा सके और इसका क्रेडिट राज्य के उस व्यक्ति को प्रदान किया जाए जिस ने इस कार्य में हिस्सा लिया है। 

  • Mathrubhumi Yojana के तहत परियोजना की कुल लागत का 50 फ़ीसदी सरकार द्वारा वहन किया जाएगा
  • और 50 फ़ीसदी स्वयं व्यक्ति अपने सहयोग से कर सकेगा।
  • गांव में विकास लाने पर परियोजना का नामकरण सहयोगी व्यक्ति इच्छा अनुसार उनके परिजनों पर किया जाएगा।
  • इस करने के लिए पंचायतों को आत्मनिर्भर होने की आवश्यकता पड़ेगी।

प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना

मातृभूमि योजना के अंतर्गत हुई पंचायत सहायकों की नियुक्ति

जैसे के हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा गांव के विकास के लिए उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना का शुभारंभ किया गया है। इस योजना के सफलतापूर्वक कार्यान्वयन के लिए सरकार द्वारा सहयोग करने वाले पंचायत सहायकों की नियुक्ति करने का निर्णय लिया गया। इन सहायकों की जिम्मेदारी होगी केवल योजना से संबंधित जानकारी लोगों तक पहुंचाएं और स्थानीय स्तर पर योजना की प्रगति करें। साथ ही साथ में योजना से संबंधित जानकारी प्रशासन को प्रदान करेंगे। सूत्रों के अनुसार पता चला है कि योगी सरकार द्वारा पहली बार पंचायत सहायकों की नियुक्ति की जा रही है। सरकार एवं दानदाताओं द्वारा इन सभी नियुक्तियों को अधिकतम 10000 रुपये का भुगतान किया जाएगा।

सोसाइटी का किया जाएगा गठन

सरकार द्वारा इस योजना के तहत एक सोसाइटी का गठन किया जाएगा और साथ ही साथ जिला स्तर पर बैंक में खाता खोले जाएंगे। इन खातों के माध्यम से ही दानदाता द्वारा लोगों को राशि उपलब्ध कराई जाएगी। तथा यह राशि प्राप्त करने के 30 दिन के भीतर ही मुख्य विकास अधिकारी को प्रोजेक्ट का शुभारंभ करने की परमिशन देनी होगी। इसके संचालन के नियम प्रोजेक्ट मैनेजमेंट यूनिट बनाई जाएगी और साथ ही साथ मोबाइल एप एवं वेब पोर्टल का भी गठन किया जाएगा। यदि गांव के विकास कार्य में लोगों को किसी भी प्रकार की समस्या आती है तो वह कॉल सेंटर पर संपर्क कर अपनी समस्या का निवारण प्राप्त कर सकते हैं। इन कॉल सेंटरों के माध्यम से सरकार दानदाताओं से संपर्क कर सकेंगे।

जिला पंचायतों के तहत हॉट मिक्स और फुल डेप्थ रिक्लेमेशन से होगा निर्माण

15 सितंबर 2021 को एक वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा बताया गया कि इस योजना को ग्रामीण सड़क योजना तथा जिला पंचायतों के तहत हॉटमैक्स और फुल डेप्थ रिक्लेमेशन विकसित किया जाएगा। उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य बना है जो इस टेक्नोलॉजी का उपयोग करेगा और अपने गांव में विकास लाएगा। साथ ही साथ मुख्यमंत्री जी द्वारा बताया गया कि गांव के समग्र विकास के लिए राज्य और केंद्र सरकार द्वारा UP Matra Bhumi Scheme पर काम किया जा रहा है। इस कार्य को और बेहतर बनाने के लिए समाज के साधन संपन्न लोगों का सहयोग लेकर काम को बेहतर और तेज किया जा रहा है।

  • गांव के विकास लाने में उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना एक अच्छा प्रयास होगी।
  • उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के माध्यम से राज्य में विभिन्न स्थलों निर्माण किया जाएगा जिससे गांव में विकास पैदा हो।
Mathrubhumi Yojana

Mathrubhumi Yojana के तहत स्थापित होने वाले स्थल

राज्य में गांव के विकास के लिए विभिन्न स्थलों का निर्माण किया जाएगा जो कि कुछ इस प्रकार है:-

  • स्वास्थ्य केंद्र
  • आंगनवाड़ी
  • पुस्तकालय
  • स्टेडियम
  • व्यायाम शाला
  • ओपन जिम
  • पशु नस्ल सुधार केंद्र
  • फायर सर्विस सेंटर
  • सीसीटीवी कैमरे
  • अंत्येष्टि स्थल

ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा इस योजना को वर्चुअल माध्यम से आरंभ किया गया है। सरकार द्वारा बताया गया है कि इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूती प्रदान की जा सके। इस योजना को पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेई द्वारा लांच की गई प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के अंतर्गत शुरू किया गया है। यूपी मातृभूमि योजना गांव के लिए एक उन्नति का माध्यम बनी है। मुख्यमंत्री जी द्वारा कहा गया कि प्रदेश में 500 या उससे अधिक आबादी वाले सभी मजदूरों का संपर्क मार्ग से जोड़ा जाएगा। उत्तर प्रदेश एफडीआर टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल करने वाला पहला राज्य बना है जिसके माध्यम से ग्रामीण क्षेत्र में काफी विकास पैदा होगा।

  • साथ ही साथ उन्होंने पायलट प्रोजेक्ट के तौर पर आजमगढ़ और जौनपुर जिले पंचायत में फुल तक रिक्लेमेशन पदार्थी के लिए अपनी खुशी जाहिर की।
  • साथ ही साथ सीएम द्वारा जिला पंचायत अध्यक्ष ठोक के निर्माण कार्यो का भौतिक सत्यापन करने के निर्देश जारी किए गए।

Benefits Of UP Matra Bhumi Scheme

  • इस योजना का लाभ गांव में रहने वाले व्यक्तियों को प्रदान किया जाएगा। 
  • सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ करने का मुख्य उद्देश्य है कि गांव में होने वाले अवस्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में हर व्यक्ति को हिस्सेदारी का मौका मिलेगा।
  • UP Matra Bhumi Scheme के तहत परियोजना लागत का 50 फ़ीसदी खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाएगा और 50 फ़ीसदी इच्छुक व्यक्ति स्वयं ही करेगा।
  • इसके बदले में परियोजना का नामकरण सहयोगी व्यक्ति की इच्छा अनुसार परियोजना के नाम पर किया जाएगा।
  • मुख्यमंत्री जी द्वारा बताया गया है कि इस योजना के तहत वर्डवर्ल्ड माध्यम से जिला पंचायतों के तहत हॉट मिक्स और फुल डेप्थ रिक्लेमेशन पदार्थी पर किया जाएगा।
  • गांव के विकास के लिए सरकार द्वारा स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यायामशाला, ओपन जिम, पशु नस्ल सुधार केंद्र, फायर सर्विस स्टेशन आदि की स्थापना की जाएगी।
  • इस योजना के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में विकास पैदा होगा।
  • मुख्यमंत्री जी द्वारा उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की शुरूआत ग्रामीण क्षेत्र के लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए की गई है।
  • इस योजना की शुरूआत मुख्यमंत्री जी के द्वारा प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत की गई है।

उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की विशेषताएं

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ जी के द्वारा उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना की शुरुआत 15 सितंबर 2021 को की गई है।
  • यूपी मातृभूमि योजना के माध्यम से गांव में होने वाले स्थापना विकास के विभिन्न कार्यों में प्रत्येक व्यक्ति की सीधे हिस्सेदारी का मौका मिलेगा।
  • इस हिस्सेदारी में सरकार द्वारा पचास फ़ीसदी खर्च वहन किया जाएगा और बाकी का 50 फ़ीसदी व्यक्ति की ओर से खर्च किया जाएगा।
  • इसके बदले में परियोजना का नामकरण सहयोगी व्यक्ति की इच्छा अनुसार उनके परियोजना के नाम पर किया जाएगा।
  • इस योजना की शुरुआत ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग द्वारा की गई है।
  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री जी के द्वारा Mathrubhumi Yojana का कार्यक्रम बुधवार को पीएम सड़क योजना के तहत
  • और जिला पंचायतों के साथ हॉट मिक्स तथा फुल डेप्थ रिक्लेमेशन आधार पर किया गया है।
  • सरकार द्वारा इस योजना का शुभारंभ समग्र विकास के यह किया गया है।
  • और साथ ही समाज के साधन संपन्न लोगों का सहयोग लेकर इस काम को तेजी से किया जाएगा।
  • यह गांव में विकास लाने के लिए एक अच्छा प्रयास होगा।
  • सरकार द्वारा गांव में स्वास्थ्य केंद्र, आंगनवाड़ी, पुस्तकालय, स्टेडियम, व्यायाम शाला, ओपन जिम, पशु नस्ल सुधार केंद्र, एयर सर्विस सेंटर आदि की स्थापना की जाएगी।
  • Matra Bhumi Yojana UP को आरंभ करने का उद्देश्य है कि राज्य के गांव को स्मार्ट विलेज बनाया जा सके
  • और वहां पर सीसीटीवी कैमरे भी लगाए जा सके।
  • यदि आप भी इस योजना के तहत हिस्सेदार बनना चाहते हैं तो आपको जल्द से जल्द इस योजना के तहत आवेदन करना होगा।

Uttar Pradesh Mathrubhumi Yojana 2024 के तहत ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया

राज्य के जो इच्छुक लाभार्थी उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के तहत आवेदन करना चाहते हैं उन्हें अभी थोड़ा इंतजार करना होगा। क्योंकि सरकार द्वारा इस योजना को हाल ही में ही आरंभ किया गया है जैसे ही सरकार द्वारा उत्तर प्रदेश मातृभूमि योजना के आवेदन की प्रक्रिया को आरंभ किया जाएगा वैसे ही हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से संपूर्ण जानकारी प्रदान करेंगे। अगर आप को इस योजना से संबंधित कोई भी कठिनाइयां मन में कोई अपनी प्रश्न आता है तो आप हम से नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट करके पूछ सकते हैं।

Leave a Comment